Current Issue

Vol 13 No 6 (2019): Vol-13-Issue-6-June-2019
न के विस्तार के साथ है कि मानव जीवन और ज्ञान विभिन्न विषयों की सीमा में सीमित नहीं है। इसका संबंध ज्ञान की विविध धाराओं और शाखाओं के रूप में व्याप्त है। सामाजिक विज्ञान के शोध क्षेत्र एवं विज्ञान के विविध शोध भी स्वभावतः एवं प्रवृत्तिगत रूप से अंतर अनुशासनात्मक हैं। मानव जीवन की व्यापकता और जटिलता को समझने के लिए शिक्षा और शोध क्षेत्र में अंतर-अनुशासनात्मक द्ष्टिकोण का विकास किया जाना अनिवार्य है। इसी को दृष्टिगत रखते हुए एडीआर प्रकाशन ने हिन्दी में अंतर्राष्ट्रीय पत्रिका अनुसंधान के प्रकाशन का निश्चय किया है।   यह पत्रिका सहकर्मी समीक्षा (Peer Review) पर आधारित है। इसका उद्देश्य अंतर अनुशासनात्मक शोध को प्रोत्साहित करना तथा इस क्षेत्र में नवाचार व नवीन शोधों को मंच प्रदान करना है। इसमें सामाजिक अध्ययन, भाषा, विज्ञान एवं तकनीकि एवं अन्य विविध क्षेत्रों के हिन्दी भाषा के शोध पत्रों को प्रकाशित किया जा सकेगा।    किसी विषय अथवा ज्ञान क्षेत्र की प्रगति के लिए आवश्यक है कि अंतर अनुशासनात्मक शोध प्रवृत्ति में निरंतर वृद्धि हो। साथ ही ऐसे शोध अंतर्राष्ट्रीय मानकों के अनुरूप होने चाहिए। इसी को दृष्टिगत रखते हुए अनुससंधान और नवाचार को प्रोत्साहन मिले। इसी कारण यह प्रकाशन किया जा रहा है। Send papers to editor@eduindex.org
Published: 2019-06-01

Articles

View All Issues